भारत में क्यों बैन हुई TikTok, जानें कारण

TikTok Ban in India

भारत में TikTok का क्रेज काफी बढ़ गया है, इसमें लोग गाने, फिल्मी डायलॉग्स जैसी चीजों की वीडियो बनाकर शेयर करते हैं। TikTok से लोग पैसे भी कमा रहे हैं, पहले इसका नाम musically रखा गया था लेकिन बाद इस नाम को बदलकर TikTok कर दिया गया। इस ऐप को दुनियाभर में तकरीबन 800 million से ज्यादा बार डाउनलोड किया जा चुका है।

TikTok को 2016 में लॉन्च की गई थी लेकिन 2018 में ये बहुत फेमस हुई। अक्टूबर 2018 में TikTok अमेरिका में सबसे ज्यादा डाउनलोड की जाने वाली mobile app बन गई।

मद्रास हाई कोर्ट ने 3 अप्रैल को केंद्र को TikTok app को प्रतिबंधित करने का निर्देश दिया और भारत में TikTok को बैन कर दिया गया था, और इसे Google और Apple Play Store से हटा दिया गया. जिसके कारण TikTok company को काफी नुकशान भी हुआ था. लेकिन अब ये प्रतिबंधित पूरी तरह से हट चूका है। हाईकोर्ट का कहना था कि TikTok के माध्यम से अश्लील (18+ content) video upload की जा रही थी और इस app के जरिए भारतीय संस्कृति को नुकसान हो रहा था, जो पूरी तरह से गैर क़ानूनी है. कोर्ट का यह आदेश तमिलनाडु के सूचना और प्रसारण मंत्री एम मणिकंदन के बयान के दो महीने बाद आया था।

वहीं न्यूज रिपोर्ट्स के मुताबिक TikTok ने कहा है की हम हमारे users को बेहतर तरीके से सर्व करने के लिए दिए गए इस मौके के लिए आभारी हैं और हम लागातार TikTok को गलत तरीके से इस्तेमाल होने से रोकेंगे, सेफ्टी फीचर्स को बेहतर बनायेगे और कंपनी पॉलिसी में कुछ बदलाव करेंगे, ताकि भविष्य में ऐसा न हो। इसके लगभग एक सप्ताह के बाद ही सरकार ने TikTok पर लगे प्रतिबन्ध को हटा लिया। TikTok कंपनी के अधिकार चीनी कंपनी बाइटडांस (Bytedance) के पास है, जो दुनिया की सबसे ज्यादा वैल्यू वाली स्टार्टअप कंपनी है।

दोस्तो उम्मीद करता हूँ की यह हिंदी पोस्ट आपको पसंद आयी हो, लेकिन अगर कुछ समझने में आपको दिक्कत आयी है तो कृपया नीचे कमेंट में बताये। यदि आपको यह article पसंद आयी हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करे इससे उनका ज्ञान भी बढ़ेगा और हमे भी प्रोत्साहन मिलेगा। अपना कीमती समय देकर इस पोस्ट को पढ़ने के लिए दिल से धन्यवाद!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here