Online payment के लिए UPI का करते हैं इस्तेमाल? फ्रॉड से बचने के लिए इन बातों का ध्यान जरूर रखें

UPI and Internet Safety Tips in Hindi

UPI और Internet इस्तेमाल करने के Safety Tips in Hindi

पिछले कुछ सालों में डिजिटल पेमेंट (Digital Payment) बढ़ता ही जा रहा है. ऐसे में डिजिटल फ्रॉड के भी केस सामने आ रहे हैं. यहां तक कि कई बार पढ़े-लिखे लोग भी ऑनलाइन फ्रॉड के शिकार हो जाते हैं।

हालांकि, थोड़ी सी जागरूकता के साथ अगर ग्राहक कुछ बातों का ध्यान रखें, तो वे डिजिटल पेमेंट ऐप्स के जरिए होने वाली इस धोखाधड़ी से बच सकते हैं। UPI ने भारत में बहुत तेजी से लोकप्रियता हासिल की है। यह काफी आसान और तेज़ payment system है।

इस system में किसी का बैंक अकाउंट नंबर जाने बिना ही उसके बैंक खाते में payment भेजने की सुविधा मिलती है।

आकड़ों के मुताबिक इसी साल जनवरी में भारत में 2.16 लाख करोड़ रुपये की कुल 1.3 अरब लेन-देन UPI के जरिये हुईं। इस समय BHIM app के अलावा Google Pay, Paytm और PhonePe जैसे प्राइवेट कंपनियों के app सबसे अधिक उपयोग किए गये।

UPI के जरिए हर महीने करोड़ों का लेनदेन होता है। लेकिन सवाल ये है कि यूपीआई आखिर कितना सुरक्षित है। डिजिटल लेनदेन ग्राहकों के लिए लाभदायक होने के साथ-साथ उनके लिए खतरा भी है।

UPI का इस्तेमाल बढ़ रहा उसी तरह इनसे जुड़े फ्रॉड का जोखिम भी बढ़ रहा है। हालांकि कुछ बातों का ध्यान रख फ्रॉड से काफी हद तक बचा जा सकता है।

भारत सरकार देश में डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा दे रही है। साल 2021 तक देश में डिजिटल लेनदेन चार गुना तक बढ़ने की उम्मीद है।

आपको UPI का इस्तेमाल करते हुए इससे जुड़े फ्रॉड से सावधान रहने की जरूरत है। हम आपको बताने जा रहे हैं ऐसे उपाय, जिनसे आप UPI फ्रॉड से सुरक्षित रह सकते हैं।

  1. अपने UPI Pin के बारे में किसी दूसरे व्यक्ति को नहीं बताएं. यह पिन आपके एटीएम पिन के जैसा ही है इसलिये इसको कभी भी किसी से न शेयर करें.
  2. पेमेंट करने के लिए लिंक – अगर आप OLX या Quickr जैसी websites के जरिए कोई सामान बेच रहे हैं, तो पहले पेमेंट लेने से बचें किसी लिंक पर क्लिक करके, इससे कई बार पैसे देने के बजाय आप से पैसे ले लिये जाते है।
  3. Payment Request से रहें सावधान – UPI app जैसे BHIM, Google Pay, PhonePe पर payment request करने का option होता है. आजकल धोखाधड़ी करने वाले (Fraud)  इसी option का उपयोग करके लोगो के खातो से पैसा निकाल रहे है.
  4. Social Media और फर्जी कॉल (Fraud call) से बचें – अगर आपको कस्टमर केयर से कुछ पूछना है या कोई जानकारी लेनी है, तो केवल अपने payment apps के Help / Support section का ही इस्तेमाल करें. कस्टमर केयर नंबर को इंटरनेट पर न खोजने से बचे.
  5. OTP न शेयर करें – ज्यादातर फ्रॉड OTP को शेयर करने से होते हैं, OTP को शेयर करना का मतलब है कि कोई भी व्यक्ति आपके अकाउंट ले पैसे निकाल सकता है.
  6. केवल अपने जरुरी काम के apps को ही मोबाइल में डाउनलोड करें. ज्यादातर लोग अपने मोबाइल फोन में किसी भी app डाउनलोड कर लेते हैं चाहे वह उनके काम का हो या ना हो. इनमे से ज्यादातर apps उनकी निजी जानकारी को चुरा लेते हैं, जो बेहद ही खतरनाक है.
  7. किसी लिंक के द्वारा कोई form या website का address आता है, तो वहां UPI Pin ना डाले.
  8. इस बात का ध्यान रखें कि पैसे प्राप्त करने के लिये UPI Pin की कोई जरूरत नहीं होती है. पैसे प्राप्त करने में अपना UPI Pin कभी भी न डालें.
  9. UPI Pin को डालने का मतलब है कि आप किसी व्यक्ति को भुगतान कर रहे हैं.
  10. कृपया अपने Paytm खाते को बंद करने या KYC करने का सुझाव देने वाले किसी भी SMS पर भरोसा न करें, Paytm में KYC के नाम पर धोखाधड़ी के मामले सबसे अधिक देखने को मिल रहे हैं. यहां आपको बता दें कि Paytm कभी भी SMS या call के जरिए KYC नहीं करता है।
  11. धोखेबाज, फ्रॉड के लिए AnyDesk या teamviewer apps का इस्तेमाल करते हैं. इस app की मदद से आप यूजर की स्क्रीन को देख सकते हैं. इस ऐप की मदद से धोखा करने वाले लोग ग्राहकों के फोन तक पहुंच जाते हैं और बाद में बैक अकाउंट की सारी जानकारी चोरी कर लेते हैं.
  12. फ्रॉड से बचने के लिए ग्राहकों कभी भी डेबिट कार्ड नंबर, एक्सपायरी डेट, रजिस्ट्रेशन, ओटीपी जैसी डिटेल किसी के साथ भी शेयर नहीं करनी चाहिए.
  13. कोई भी बैंक किसी भी ग्राहक से उसके कार्ड की डिटेल या ओटीपी नहीं मांगता है तो अगर ऐसा कोई भी कॉल आता है तो उससे बचें.
  14. अगर आपका फोन खो जाये तो अपने बैंक के ग्राहक सेवा से संपर्क करें और अपने UPI apps से लिंक खाते को block करवायें।
  15. अपने फोन में एक मजबूत पैटर्न या पासवर्ड डालें। UPI apps खोलने के लिए एक दूसरा पिन सेट करें। लेन-देन शुरू करने के लिए दर्ज किए गए पिन को आप अलग भी कर सकते हैं। ये भी सुनिश्चित करें कि आपके apps updated हो।
  16. यहां ध्यान रखना जरूरी है कि payment  लेने  के लिए UPI Pin डालने की की जरूरत नहीं होती। आप request को cancel, block या spam report कर दें। किसी भी हाल में अपना पिन न दर्ज करें।
  17. अपने पास आने वाले किसी भी SMS, E-mail या Whatsapp message को अच्छे से पढ़ें, और अगर जरुरत हो तो ही इस पर दिये गये link पर click करे।
  18. हमेशा कोई भी app, Google  play या Apple store से ही install करे और कंपनी के logo और spelling को चैक जरूर करे।
  19. किसी भी app को permission जरूरत के अनुसार ही दें या फिर one time allow करें।
  20. Cashback या Refund वाली स्कीमों से दूर रहें।

साइबर एक्सपर्ट मोहित साहू ने बताया कि जितने भी Online Payment एप हैं, इन सब पर ठगों की ध्यान हमेसा रहती हैं।

UPI या Online धोखाधड़ी / फ्रॉड हो जाने पर उठाएं ये कदम

  1. धोखाधड़ी (fraud) हो जाने पर bank और UPI customer care number में call करें, ताकि payment को रोका जा सके या payment refund किया जा सके।
  2. किसी Cyber expert की मदद लें और मामले की FIR दर्ज करवाएं।

Internet इस्तमाल करते समय सुरक्षा के हिसाब से किन बातों का ध्यान रखना चाहिए?

  1. Net banking websites उपयोग करने के बाद, logout जरूर करें
  2. Cyber cafe में इंटरनेट बैकिंग का प्रयोग कभी ना करें
  3. इंटरनेट का उपयोग करने के लिए सुरक्षित ब्राउज़र का उपयोग करना चाहिए, जैसे Google Chrome, Internet explorer, Opera और Safari
  4. Anti Virus का उपयोग करें और इसे नियमित रूप से अपडेट करते रहें।
  5. किसी बैंक या अन्य से मिलते जुलते e-mail पर अपनी निजी जानकारी देने से बचें।
  6. Pirated (चोरी किया गया) softwares से सावधान रहें।
  7. अपने mobile के softwares को नियमित रूप से update करते रहें।
  8. नकली websites से सावधान रहें।
  9. Google पर हेल्पलाइन नंबर न सर्च करें।
  10. अपने mobile, computer और tablet पर हमेशा password का इस्तेमाल करें।
  11. सार्वजनिक जगहों पर मिलने वाले free internet का इस्तेमाल से बचें।
  12. बैंकिंग पासवर्ड्स, सोशल मीडिया के पासवर्ड्स एक जैसा न रखे। हो सके तो सभी चीजों का पासवर्ड अलग अलग रखे।
  13. जिन websites की शुरुआत में https हो, उन्ही websites को open करे, ऐसी websites अधिक सुरक्षित मानी जाती हैं |
  14. मोबाइल apps हमेशा प्लेस्टोर और कंप्यूटर सॉफ्टवेयर को ओरिजिनल वेबसाइट से ही डाउनलोड करे।

अगर आपको ये पोस्ट UPI और Internet इस्तेमाल करने के Safety Tips in Hindi” अच्छा लगा हो तो कृप्या दोस्तों और रिलेटिव के साथ जरुर शेयर करे. जिससे नयी जानकारी उनके तक पहुँच सके और वो भी इसका लाभ उठा सके. आपको लगता है की हमें कुछ सुझाव देना चाहिए तो please हमें जरूर बताये. आप हमें comment कर के या मेल के जरिये अपने सुझाव हमें भेज सकते है.

2 COMMENTS

  1. Aapnay bahut acchay se upi safety tips ke bare me bataya hai iskayliyay thank you. Aaj kal internet ke jariyay fraud bahut badh gaya hai aapko post accha laga.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here