Website क्या है? इसके प्रकार और फायदे (What is Website in Hindi?)

Website kya hai in Hindi

नमस्कार दोस्तों, truevidya.com में आपका स्वागत करता हूँ। आज मैं आपको वेबसाइट क्या हैं, ओर यह कितना प्रकार का होता हैं। साथ ही साथ मैं आपको वेबसाइट होने का क्या फायदा हैं। इन सभी के बारे में जानकारी दे रहा हूँ। आज के ज़माने में Internet इतना Popular हो चुका है की हर किसी को अपने किसी न किसी काम के लिए Internet का सहारा लेना ही पड़ता है। Internet जो हमे Online Data के साथ जोड़ने में Help करता है अब आप इसके द्वारा कोई भी जानकारी World के किसी भी जगह बैठकर आसानी से प्राप्त कर सकते है। आजकल के इस तकनीकी युग में सभी सूचनाओं का प्रचार-प्रसार website के माध्यम से होता है। इसके साथ ही world में वेबसाइट की तादात बढ़ती जा रही है और हर कोई अपनी website बनाना चाहता है।

आसान शब्दों में समझे तो website दो या दो से अधिक web page के संग्रह (collection) को website कहते है। website के पहले पेज को home page या main page भी कहा जाता है।.

उदाहरण के लिए जिस प्रकार से एक किताब होता है और किताब में बहुत सारे अलग अलग page होता है। website भी एक किताब की तरह होता है जिसमे बहुत सारे web pages रहते हैं। एक web page में बहुत सारे जानकारी हो सकते हैं जैसे की Text, Image, Animation, Audio, Video etc.

आप जो भी जानकारी internet पर देखते हो वो सभी website के मध्यम से ही होता है . जैसे truevidya.com एक website है ओर अभी जहा आप पढ़ रहे हो webpage है, website मे कितना भी पेज हो सकता है ईसके लिये कोई limit पाबन्दी नहीं हैं. Wesite क्या है मैने बुल्किल आसान शब्दों में आपको बताया हैं, उम्मीद करता हु की आपको समझ आया होगा. website को देखने के किये वेब ब्राउज़र का इस्तमाल किया जाता है। जैसे: Chrome, Internet Explorer, Edge, Firefox, Opera और Safari. वेब ब्राउज़र को कंप्यूटर या मोबाइल में ओपन करके वेबसाइट्स को एक्सेस किया जाता है।

वेबसाइटों के प्रकार (Types of Website):

Website दो प्रकार के होते हैं static Website और dynamic Website, आइये दोनों के बारे में जानते हैं.

स्टैटिक वेबसाइटें (Static Websites)

स्टैटिक वेबसाइट बिना किसी कोडिंग और डेटाबेस वाली सबसे बेसिक तरह की वेबसाइट हैं जो अपने आप update नहीं होती हैं. इन्हे normal या Basic websites भी कहते हैं ओर इनको बनाना भी बहुत आसान होता हैं। इसे बनाने में समय कम और लागत भी कम लगता है। सामान्यतः एक static website या normal website में 5 se 15 pages होते हैं ज्यादातर स्कूल, कॉलेज, company, trust, institute की website static होती है। Static website व्यवसाय का विस्तार करने के लिए छोटे उद्यमों या व्यक्ति के लिए बहुत लाभदायक है।

Static Websites के कुछ उदाहरण (Examples of some basic websites):-

  • isttm.com
  • kompassacademy.com
  • truevidya.com
  • signdsc.in
  • harleys.in
  • snehait.com
  • priyanshis.com
  • kaafihospitals.com

डाइनेमिक वेबसाइटें (Dynamic Websites)

Dynamic Website अपने आप update होती रहती हैं। इन पर बहुत सारा कोडिंग करना पड़ता हैं जो web developers करते हैं. इसे बनाने में समय अधिक और लागत भी अधिक लगता है। Dynamic websites को डेटाबेस से जोड़ा जाता है।

Dynamic website के कुछ उदाहरण (Examples of some dynamic websites):-

  • facebook.com
  • instagram.com
  • youtube.com
  • gmail.com
  • twitter.com
  • amazon.com
  • linkedin.com
  • flipkart.com
  • tribalmantra.com
  • pinterest.com

Websites की श्रेणियाँ (Websites Categories)

आज इंटरनेट पर अरबों वेबसाइट हैं जिन्हें निम्न प्रकार की श्रेणियों में जोड़ा जा सकता है।
  • Search Engine Website
  • Search engine website एक ऐसी वेबसाइट है जो लोगों को इंटरनेट पर जानकारी खोजने में मदद करता हैं। जैसे – Google, Yahoo, Bing. वर्तमान में, सबसे लोकप्रिय Google है। अन्य search engine website में AOL, Ask.com, Baidu, Bing, और Yahoo शामिल हैं।

  • Social networking website
  • Social networking website आपको दोस्तों, परिवार, मशहूर हस्तियों और संगठनों से जुड़ने में मदद करती हैं। यह आमतौर पर मुफ्त होती हैं। Facebook, Twitter, Instagram, Pinterest और LinkedIn सोशल नेटवर्किंग वेबसाइटों के उदाहरण हैं।

  • eCommerce Website
  • eCommerce Website ऐसे website को कहते हैं जहाँ आप कोई भी सामान Online खरीद या बेच सकते हैं। पिछले कुछ सालों से ई-कॉमर्स वेबसाइट भारतीय लोगों की जरुरत बन गई है, तो आइए आपको बताते हैं कि भारत में टॉप ई-कॉमर्स वेबसाइट कौन-कौन सी हैं? Amazon.in, Flipkart.com, Jabong.com, Snapdeal.com, Myntra.com, Shopclues.com, Paytmmall.com, 1mg.com, firstcry.com, bookmyshow.com and indiamart.com

  • Forum Website
  • Forum Website ऐसे website को कहते हैं जहाँ आप कोई भी सवाल पूछ सकते हैं और सवालो के जवाब भी दे सकते हैं। ये बहुत ही महत्वपूर्ण websites होते है, और साथ ही अगर आपको किसी टॉपिक में अच्छी जानकारी है तो लोगो के सवाल के जवाब देकर आप उनकी मदद कर सकते हो। जैसे- Quora,Yahoo! Groups, Google Forums, Ubuntu Forums, Reddit, Stack Overflow, Final Thoughts इत्यादि।

  • Business Website
  • Entertainment Website
  • Portfolio Website
  • Media Website
  • Brochure Website
  • Nonprofit Website
  • Educational Website
  • Personal Website
  • Web Portal
  • Classified Websites

वेबसाइट होने के फायदे (Benefits of having a website):-

  • वेबसाइट को दुनिया की भी जगह से देखा जा सकता है और जानकारी प्राप्त की जा सकती हैं।
  • अगर आपका website है तो printing material (Brochure, Flyer, Leaflet) की जरुरत ज्यादा नहीं होती उससे काम लगत में website बन जाता हैं।
  • आजकल लगभग सभी जानकरी इंटरनेट पर उपलब्ध (Available) हैं, website से आपका या आपके काम के बारे में internet में जानकारी उपलब्ध रहता हैं, जिसे कोई भी आसानी देख सकता हैं।
  • Website में किसी भी जानकारी को update आसानी से किया जा सकता हैं इसमे ज्यादा खर्चा भी नहीं होता printing material (Brochure, Flyer, Leaflet) की तुलना में।

पहली website कब बनाई गई थी?

पहली वेबसाइट टिम बर्नर्स-ली (Tim Berners-Lee) द्वारा सर्न (CERN – Conseil Europeen pour la Recherche Nuclaire) में बनाया गया था और 6 अगस्त, 1991 को लॉन्च किया गया था।

Website कैसे खोले? (How to open a website in Hindi?)

Website को देखने के लिए एक ब्राउज़र (Internet Explorer, Edge, Safari, Firefox, or Chrome) की आवश्यकता होती है। आप ब्राउज़र (browser) के Address bar में website का URL type करके website खोल सकते हैं। उदाहरण के लिए, ब्राउज़र (browser) के Address bar में “www.truevidya.com” टाइप करके True Vidya का website खोल सकते हैं।

तो दोस्तों मुझे उम्मीद है की आप समझ गये होंगे website क्या है? Internet बहुत तेज़ी से आगे बढ़ रहा है जिससे हर रोज बहुत से website बनाये जा रहे हैं अलग अलग उदेश्य से। अगर आपको यह पोस्ट पसंद आया हो तो इसे शेयर भी जरुर कीजियेगा ताकि और लोग website के बारे में जान सकें। धन्यवाद!

नमस्कार दोस्तों, मैं नाम देव प्रकाश साहू, TrueVidya.com का फाउंडर हूँ. मुझे नयी टेक्नोलॉजी से संबंधित जानकारी शेयर करना बेहद पसंद है. अगर आप नयी टेक्नोलॉजी, ब्लॉगिंग, कंप्यूटर और इंटरनेट से संबंधित विषयो में रूचि रखते है तो इस ब्लॉग को सहयोग शेयर जरूर करे. धन्यवाद ||

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here